देश

दिल्ली धरना में बुजुर्ग किसान की हार्ट अटैक से मौत

 केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन कृषि कानूनों के विरोध में हाल के ठंड के मौसम में 42 किसानों की जान चली गई है। टिकरी-बहादुरगढ़ सीमा पर दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया। घटना की खबर के बाद इलाके में शोक की लहर है।

एक किसान का बेटा दलजीत सिंह, जो पिछले दस वर्षों से भारतीय किसान यूनियन (उग्राहन) से जुड़ा हुआ है, पार्टी का जिला पदाधिकारी है और परिवार सात नहरों का मालिक है। दलजीत सिंह ने कहा कि 24 दिसंबर को वह अपने पिता अमरीक सिंह, मां मंजीत कौर, छोटे भाई बलजीत सिंह, पत्नी इंदर जीत कौर और साढ़े तीन साल की बेटी दिलनशाह कौर के साथ दिल्ली पहुंचे। बीकेयू (उग्राहन) ने अमरीक सिंह को किसान संघर्ष का शहीद घोषित किया है और उनकी मृत्यु के लिए सरकार से वित्तीय मुआवजे की मांग की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button